GK Quiz
Mohobbat Shayari, Pyar Shayari, Meri Mehbooba Shayari, Mohobbat Shayari Images, Love shayari
Mohobbat Shayari | Love

तुम हँसों तो खुशी मुझे होती है,
तुम रूठो तो आँखें मेरी रोती हैं,
तुम दूर जाओ तो बेचैनी मुझे होती है,
महसूस करके देखो मोहब्बत ऐसी ही होती है..

Tum hanso to khushi mujhe hoti hai,
Tum rutho to Ankhon meri roti hai,
Tum door jao to bechaini mujhe hoti hai,
Mehsoos karke dekho mohobbat aisi hi hoti hai..


Mohobbat Shayari | Love

किसी न किसी पे किसी को एतबार हो जाता है ,
अजनबी कोई शख्स यार हो जाता है ,
खूबियों से नहीं होती मोहब्बत सदा ,
खामियों से भी अक्सर प्यार हो जाता है ..

Kisi na kisi pe kisi ko aitbaar ho jata hai,
Ajanabi koi shaksh yaar ho jata hai,
Khubiyon se nahi hoti mohobbat sada,
Khamiyon se bhi aksar pyar ho jata hai..


Mohobbat Shayari | Love

जब मोहब्बत बेहिसाब की तो,
ज़ख्मो का हिसाब क्या करना..
अक्ल कहती है की मारा जाएगा,
इश्क कहता है,की देखा जाएगा..

Jab Mohobbat behisaab ki to
Zakhmon ka heesab kya karna,
Akl kahati hai ki mara jayega,
Ishq kahata hai ki dekha Jayega..


Mohobbat Shayari | Love

मोहब्बत यूँ ही किसी से हुआ नहीं करती,
अपना वजूद भुलाना पड़ता है,
किसी को अपना बनाने के लिए..

Mohobbat yunhi kisi se hua nahi karti,
Apna wazood bhulana padta hai,
Kisi ko Apna banane ke liye..

Please also check out BEST COLLECTION OF DIL SHAYARI


Mohobbat Shayari | Love

मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,
वो मुझे चाहे या मिल जाये, जरूरी तो नही,
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो,
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही..

Meri Mohobbat hai vo koi majboori to nahi,
Wo mujhe chahe Ya mil jaye,Jaruri to nahi,
Ye kuchh kam hai ki basa hai meri sanso mein wo,
Samne ho meri ankhon ke jaruri to nahin…


Mohobbat Shayari | Love

होती नहीं है मोहब्बत सूरत से,
मोहब्बत तो दिल से होती है,
सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी,
कदर जिनकी दिल में होती है..

Hoti nahi hai Mohobbat Surat se,
Mohobbat to Dil se hoti hai,
Surat unaki khud-b-khud lagti hai payri,
Kadar jinaki Dil mein hoti hai..


Mohobbat Shayari | Love

ये दिल न जाने क्या कर बैठा,
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा,
इस ज़मीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता,
और ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा..

Ye Dil na jane kya kar betha,
Mujh se bina puchhe hi faisala kar betha,
Is jameen par toota Sitara bhi nahi girta,
Aur ye pagal Chand se mohobbat kar betha..


Mohobbat Shayari | Love

बहुत खूबसूरत है ऑंखें तुम्हारी,
इन्हें बना दो किस्मत हमारी,
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ,
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी..

Bahot khubsoorat hai Ankhen Tumhari,
Inhe banado Kismat hamari,
Hamen nahi chahiye Zamane ki Khushiyan,
Agar mil jaye Mohobbat Tumhari..


Mohobbat Shayari | Love

कसूर ना उनका था ना हमारा,
हम दोनों ही रिश्तों की रसम निभाते रहे,
वो दोस्ती का एहसास जताते रहे,
और हम मोहब्बत को दिल में छुपाते रहे​..

Kasoor na unaka tha na Hamara,
Ham dono hi Rishton Rasam nibhate rahe,
Wo dosti ka Ehsas jatate rahe,
Aur Ham Mohobbat ko Dil mein chhupate rahe..


Mohobbat Shayari | Love

किसी को चाह कर छोड़ देना बहुत आसान है..
किसी को छोड़ कर भी चाहों तो,
पता लगेगा मोहब्बत किसे कहते है…

Kisi ko chah kar chhod dena bahot aasan hai,
Kisi ko chhodakar bhi chaho to,
Pata lagega Mohobbat kise kehate hai..


ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ,
मुझे तुम से मोहब्बत है मगर जताना भूल जाता हूँ,
तेरी गलियों में फिरना इतना अच्छा लगता है,
मैं रास्ता याद रखता हूँ मगर ठिकाना भूल जाता हूँ..

Jaruri kam hai lekin Rojana bhul jatu hun,
Mujhe Tum se Mohobbat hai Magar jatana bhul jata hun,
Teri Galiyon mein firna achha lagta hai,
Main rasta Yaad rakhta hun,Magar thikana bhul jata hun..

मोहब्बत नहीं है कोई किताबों की बाते,
समझोगे जब रो कर कुछ काटोगे रातें,
जो चोरी हो गया तो पता चला दिल था हमारा,
करते थे हम भी कभी किताबों की बाते..

Mohobbat nahi koi Kitabon ki baten,
Samjoge jab ro kar katoge raaten,
Jo chori ho gaya to pata chala Dil tha hamara,
Karte the ham bhi kabhi kitabon ki batein..

Follow us on Instagram , FacebookTumblrTwitter