GK Quiz
Tera Intezar, Intezar Shayari, Waiting Quotes in Hindi, Pyar Mein Intezar, Teri Yaad Shayari
Tera Intezar | Intezar Shayari

चाँद सितारों से तेरी बात करते हैं,
तनहाईयों में तुझे याद करते हैं,
तुम आओ या ना आओ मर्ज़ी तुम्हारी,
हम तो हरपल तुम्हारा इंतजार करते है..

Chanad Sitaro Se Teri Baat Karte Hain,
Tanhaiyon Me Tujhe Yaad Karte Hain,
Tum Aao Ya Na Aao Marji Tumhari,
Hum To Harpal Tumhara Intezar Karte Hain.


Tera Intezar | Intezar Shayari

तमाम उम्र तेरा इंतज़ार कर लेंगे,
मगर ये रंज रहेगा कि ज़िन्दगी कम है..

Tamaam Umr Tera Intezaar Kar Lenge,
Magar Ye Ranj Rahega Ke Zindagi Kam Hai..


Tera Intezar | Intezar Shayari

तेरे इंतज़ार में छोड़ा दुनिया का साथ,
तेरे इंतज़ार में छोड़ा अपनों का साथ,
जब तुझे जाना ही था तो क्यों दिया वादों का साथ,
रह गया अब मैं बस अपने ग़मों के साथ..

Tere Intezar Me Chhoda Duniya Ka Saath,
Tere Intezar Me Chhoda Duniya Ka Saath,
Jab Tujhe Jana Hi Tha To Kyu Diya Duniya Ka Saath,
Rah Gaya Ab Main Apne Gamo Ke Saath.


Tera Intezar | Intezar Shayari

दिल में इंतज़ार की लकीर छोड़ जायेंगे,
आँखों में यादों की नमी छोड़ जायेंगे,
ढूंढ़ते फिरोगे हमें हर जगह एक दिन,
ज़िन्दगी में ऐसी अपनी कमी छोड़ जायेंगे..

Dil Me Intezar Ki Lakeer Chhod Jayenge,
Aankhon Me Yaado Ki Nami Chhod Jayenge,
Dhudhte Firoge Hume Har Jagah Ek Din,
Zindagi Me Aisi Apni Kami Chhod Jayenge.

Please also check out Latest 2020 Yaad Shayari


Tera Intezar | Intezar Shayari

नज़रों को तेरी मोहब्बत से इंकार नहीं है,
अब मुझे किसी का इंतजार नहीं है,
खामोश अगर हूँ ये अंदाज है मेरा,
मगर तुम ये न समझना कि मुझे प्यार नहीं है..

Najaro Ko Teri Mohabbat Se Inkaar Nahin Hai,
Ab Mujhe Kisi Ka Intezar Nahin Hai,
Khamosh Agar Hun Ye Andaz Hai Mera,
Magar Tum Ye Na Samajhna Ki Mujhe Pyar Nahin Hai.


Tera Intezar | Intezar Shayari

तेरे बिना कैसे मेरी गुजरेंगी ये रातें,
तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें,
बहुत लम्बी है ये घड़ियाँ इंतज़ार की,
करबट बदल-बदल कर काटेंगी ये रातें..

Tere Bina Kaise Meri Guzrengi Ye Raatein,
Tanhai Ka Gam Kaise Sahengi Ye Raatein,
Bahut Lambi Hain Ye Ghadiyan Intezaar Ki,
Karwat Badal-Badal Kar Katengi Ye Raatein..


जिस के इक़रार का इंतज़ार था मुझे,
जाने क्यों उस से इतना प्यार था मुझे,
ऐ ख़ुदा आ ही गया वो हसीं पल,
जब उसने कहा तुमसे बहुत प्यार है मुझे..

Jis Ke Ikraar Ka Intezar Tha Mujhe,
Jaane Kyu Us Se Itna Pyar Tha Mujhe,
Ai Khuda Aa Hi Gaya Wo Hasin Pal,
Jab Usne Kaha Tumse Bahut Pyar Hai Mujhe.


Tera Intezar | Intezar Shayari

जान से भी ज्यादा उन्हें प्यार किया करते थे,
याद उन्हे दिन रात किया करते थे,
अब उन राहों से गुजरा नही जाता,
जहाँ बैठ कर उनका इंतज़ार किया करते थे..

Jaan Se Bhi Jaya Unhe Pyar Kiya Karte The,
Yaad Unhe Din Raat Kiya Karte The,
Ab Un Raaho Se Gujra Nahin Jata,
Jahan Baith Kar Unka Intezar Kiya Karte.


Tera Intezar | Intezar Shayari

दिन भर भटकते रहते हैं ,
अरमान तुझसे मिलने के,
न ये दिल ठहरता है न,
तेरा इंतज़ार रुकता है..

Din Bhar Bhatakte Rehte Hain,
Armaan Tujhse Milne Ke,
Na Ye Dil Thhaherta Hai Na,
Tera Intezaar Rukta Hai.


इक रात वो गया था जहाँ बात रोक के,
अब तक रुका हुआ हूँ वहीं रात रोक के..

Ik Raat Wo Gaya Tha Jahan Baat Rok Ke,
Ab Tak Ruka Hua Hoon Wahin Raat Rok Ke.

कोई क्यों मेरा इंतज़ार करेगा,
अपनी जिंदगी मेरे लिए बेकार करेगा,
हम कौन से, किसी के लिए ख़ास हैं,
क्या सोचकर कोई हमें याद करेगा..

Koi Kyun Mera Inezar Karega,
Apni Zindagi Mere Liye Bekar Karega,
Hum Kaun Se, Kisi Ke Liye Khas Hain,
Kya Sochkar Koi Hume Yaad Karega.

नादान इनकी बातो का एतबार ना कर,
भूलकर भी इन जालिमो से प्यार ना कर,
वो क़यामत तक तेरे पास ना आयेंगे,
इनके आने का तू इन्तजार ना कर..

Nadan Inaki Baato Ka Aitabaar Na Kar,
Bhoolkar Bhi In Zaalimo Se Pyaar Na Kar,
Wo Qayaamat Tak Tere Paas Na Aayenge,
Inke Aane Ka Tu Intezar Na Kar.

Follow us on Instagram , Facebook, Tumblr, Twitter,