GK Quiz
Mohobbat Dil Se, Mohobbat Hindi Shayari, Hindi Love Shayari, Pyar Mohobbat Shayari, Best 2020 Hindi Shayari
Mohobbat Dil Se | Love

बहुत अजब होती हैं यादें यह मोहब्बत की,
रोये थे जिन पलों में याद कर उन्हें हँसी आती है,
और हँसे थे जिन पलों में,
अब याद कर उन्हें रोना आता है..

Bahot ajab hoti hai Yadein yah Mohobbat ki,
Roye the jin palon mein yaad kar Unhe hansi aati hai,
Aur hanse the jin palon mein,
Ab yaad kar unhe rona aata hai..


Mohobbat Dil Se | Love

कोई रूह का तलबगार मिले तो,
हम भी मोहब्बत कर ले,
यहाँ दिल तो बहुत मिलते है,
बस कोई दिल से नहीं मिलता..

Koi rooh ka talabgar mile to
Ham bhi Mohobbat karle.
Yahan Dil to bahot milte hai..
Bas koi dil se nahi milta..


Mohobbat Dil Se | Love

मोहब्बत की आजतक बस दो ही बातें अधूरी रही,
एक मै तुझे बता नही पायी..
और दूसरी तुम समझ नही पाये..

Mohobbat ki Aajtak bas do hi batein Adhuri rahi,
Ek main tujhe bata nahi payi..
Aur dusari Tum samajh nahi paye..


Mohobbat Dil Se | Love

खुशबू की तरह मेरी हर साँस में,
प्यार अपना बसाने का वादा करो,
रंग जितने तुम्हारी मोहब्बत के हैं,
मेरे दिल में सजाने का वादा करो..

Khushbu ki tarah meri har sans mein,
Pyar apna basane ka wada karo,
Rang jitane Tumhari Mohobbat ke hai,
Mere Dil mein sajane ka wada karo..

Please also see best of 2020 I LOVE YOU SHAYARI


Mohobbat Dil Se | Love

नजरों को तेरी मोहब्बत से इंकार नही है,
अब मुझे किसी का इंतजार नही है,
खामोश अगर हुँ ये अंदाज है मेरा,
मगर तुम ये ना समझना की मुझे प्यार नही है…

Nazaron ko teri Mohobbat se inkar nahi hai,
Ab mujhe kisi ka Intezar nahi hai,
Khamosh agar hun ye Andaz hai Mera,
Magar Tum ye na samajhana ki mujhe pyar nahi hai..


Mohobbat Dil Se | Love

ये हालत हमारी हो गई,
तुम से मोहब्बत के बाद…
मोहब्बत से भी मोहब्बत हो गई है,
तुमसे मोहब्बत के बाद…

Ye halat hamari ho gai,
Tum se Mohobbat ke baad..
Mohobbat se bhi mohobbat ho gai hai..
Tumse Mohobbat ke baad..


Mohobbat Dil Se | Love

उनकी मोहब्बत के अभी निशान बाकी है,
नाम लब पर है और जान बाकी है,
क्या हुआ अगर देख कर मुह फेर लेती है,
तसल्ली है की शक्ल की पहचान बाकी है..

Unaki Mohobbat ke abhi nishan baki hai,
Naam lab par hai aur jaan baki hai,
Kya hua agar dekhkar muh pher leti hai,
Tasalli hai ki Shakl ki pehchan baki hai..


Mohobbat Dil Se | Love

ना जाने कब तक ये आँखें उसका इंतज़ार करेंगी,
उसकी याद में कब तक खुद को बेक़रार करेंगी,
उसे तो एहसास तक नहीं इस मोहब्बत का यारो,
ना जाने कब तक यह धड़कन उसका ऐतबार करेगी..

Na jane kab tak ye Ankhen Usaka intezar karegi,
Usaki yaad mein kab tak khud ko bekarar karegi,
Use to Ehsas tak nahi Is Mohobbat ka yaro,
Na jane kab tak yah Dhadkan uska aitbar karegi..


Mohobbat Dil Se | Love

मैं फिर से निकलूँगा तलाशने को,
मेरी जिंदगी में खुशियाँ यारो,
दुआ करना इस बार,किसी से मोहब्बत न हो…

Main phir se nikalunga talashane ko,
Meri Zindagi mein Khushiyan yaro,
Dua karna is baar,Kisi se Mohobbat na ho..


​​हक़ से दे तो ​”नफरत​”​ भी सर आंखों पर​,
खैरात में तो तेरी “मोहब्बत” भी मंजूर नहीं..

Hak se de to Nafarat bhi sar ankhon par,
Khairat mein to teri Mohobbat bhi manjoor nahi..

कितना बेबस है इंसान किस्मत के आगे,
हर सपना टूट जाता है हकीकत के आगे,
जिसने कभी दुनिया में झुकना नहीं सीखा,
वो भी झुक जाता है मोहब्बत के आगे..

Kitana bebas hai insaan Kismat ke aage,
Har Sapna toot jata hai Hakikat ke aage,
Jisane kabhi Duniya mein jhukna nahi sikha,
Wo bhi jhuk jata hai Mohobbat ke aage..

शायरी की कदर को सिर्फ आशिक समझता है,
धरती की प्यास को सिर्फ बादल समझता है,
उन की मोहब्बत को मेरा दिल समझता है,
मेरी मोहब्बत के एहसासो को मेरा रब समझता है..


Shayari ki kadar ko sirf Ashiq samajhata hai,
Dharti ki pyas ko sirf badal samajhata hai,
Un ki Mohobbat ko mera Dil samajhata hai,
Meri Mohobbat ke Ehsason ko mera rab samajhata hai..

मोहब्बत की बर्बादी का क्या अफसाना था..
दिल के टुकडे हो गये और,
लोगों ने कहा वाह क्या निशाना था..


Mohobbat ki barbadi ka kya Afasana tha,
Dil ke tukde ho gaye Aur,
Logo ne kaha wah kya nishana tha..

Follow us on Instagram , FacebookTumblrTwitter