GK Quiz

Rishton Ki Samajh, Sad Love Shayari, Broken Heart Shayari, Udas Rishtey, Rishtey Nibhana Shayari

rishton ki samajh

फूलों की याद आती है काँटों को छूने पर,
रिश्तों की समझ आती है फासलों पे रहने पर,
कुछ जज़्बात ऐसे भी होते हैं जो आँखों से बयां नहीं होते,
वो तो महसूस होते हैं ज़ुबान से कहने पर..

Phoolon ki yaad aati hai kanton ko choone par,
Rishton ki samajh aati hai faslon pe rahane par,
Kuchh zazbat aise bhi hote hai jo ankhon se bayan nahi hote,
wo to mehsoos hote hai zuban se kahane par..

love sad shayari

सीने में दिल तो हर एक के होता है,
लेकिन हर एक दिल में प्यार नहीं होता,
प्यार करने के लिए तो दिल होता है,
दिल में छुपाने के लिए प्यार नहीं होता..

Sine mein Dil to har ek ke hota hai,
Lekin har ek Dil mein pyar nahi hota,
Pyar karne ke liye to Dil hota hai,
Dil mein choopane ke liye pyar nahi hota..

broken heart shayari

“जहर,मरने के लिए थोडा सा.
लेकिन,जिंदा रहने के लिए
बहुत सारा पीना पड़ता है..

Zahar Marne ke liye thoda sa,
Lekin Zinda rahane ke liye,
Bahot sara pina padta hai..

Rishton ki Samajh | Sad

मोहब्बत को जब लोग खुदा मानते हैं,
तो प्यार करने वालो को क्यों बुरा मानते है ?
जब जमाना ही पत्थर दिल है,
तो फिर पत्थरों से लोग क्यों दुआ माँगते है..

Mohobbat ko jab log khuda mante hai,
To pyar karne walon ko kyon bura mante hai ?
Jab zamana hi patthar dil hai,
To phir patthron se log kyon dua mangate hai..

Rishton ki Samajh | Sad

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं,
एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं,
ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना,
एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है..

Ek pahchan hajaron dost bana deti hai,
Ek muskan hajaron gam bhula deti hai,
Zindagi ke safar mein sambhal kar chalna,
Ek galti hajaron sapne jalakar rakh kar deti hai..

Rishton ki Samajh | Sad

इश्क़ सभी को जीना सीखा देता है,
वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है,
इश्क़ नही किया तो करके देखो,
ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है..

Ishq sabhi ko jina sikha deta hai,
Wafa ke naam marna sikha deta hai,
Ishq nahi kiya to karke dekho,
Zalim har dard sahana sikha deta hai..

Please also check out Best Collection of Yaad Shayari

hindi love shayari

तुम मुझे मौका तो दो,ऐतबार बनाने का,
थक जाओगे मेरी वफाओं के साथ चलते चलते..

Tum mujhe mauka to do,Aitbaar banane ka,
Thak jaoge meri wafaon ke Saath chalte chalte..

Rishton ki Samajh | Sad

मदहोश मत करो मूझे
अपना चेहरा दिखा कर,
मोहब्बत अगर चेहरे से होती
तो खूद़ा दिल ना बनाता.

Madhosh mat akro mujhe,
Apna chehara dikh kar,
Mohobbat agar Chehare se hoti
To Khuda Dil naa banata.

Taj mahal shayari love

अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता,
तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता,
यह तो करिश्मा है मोहब्बत का,
वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता..

Agar tum na hote to Ghazal kaun kehta,
Tumhare chehare ko kamal kaun kehta,
Yah to karishma hai mohobbat ka,
Varna patthar ko Taj Mahal Kaun kehta..

तरस रहे हैं बड़ी मुद्दतों से हम,
अपनी मुहब्बत का इज़हार लिख दो,
दीवाने हो जाएँ जिसे पढ़ के हम,
कुछ ऐसा तुम एक बार लिख दो..

Taras rahe hai badi mudaton se ham,
Apni mohobbat ka izhar likh do,
Deewane ho jaye jise padh ke ham,
Kuchh aisa tum ek bar likh do..

कोई मिलता ही नहीं हमसे हमारा बनकर,
वो मिले भी तो एक किनारा बनकर,
हर ख्वाब टूट के बिखरा काँच की तरह,
बस एक इंतज़ार है साथ, सहारा बनकर..

Koi milta hi nahi hamse hamara bankar,
Wo mile bhi to ek kinara bankar,
Har khwab tut ke bikhara kanch ki tarah,
Bas ek intezar hai saath,sahara bankar..

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,
बातें करने का अंदाज हुआ करता है,
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है..

Dil mein pyar ka agaz hua karta hai,
Baten karne ka andaz hua karta hai,
Jab tak dil mein thokar nahi lagti,
Sabko apne pyar par naaz hua karta hai..

प्यार तो ज़िन्दगी का अफसाना है,
इसका अपना ही एक तराना है,
पता है सबको मिलेंगे सिर्फ आंसू,
पर न जाने दुनिया में हर कोई
क्यों इसका दीवाना है..?

Pyar to Zindagi ka Afasana hai,
Iska Apna hi ek tarana hai,
Pata hai sabko milenge sirf ansu,
Par na jane duniya mein har koi
KyOn iska Deewana hai…?

दिल की हर बात ज़माने को बता देते है,
अपने हर राज़ से परदा उठा देते है,
चाहने वाले हमे चाहे या ना चाहे,
हम जिसे चाहते है उस पर ‘जान’ लूटा देते है…

Dil ki har baat zamane ko bata dete hai,
Apne har raz se parda utha dete hai,
Chahane wale hamen chahe ya na chahe,
Ham jise chahate hai us par “Jaan” luta dete hai..

चरागों को आँखों में महफूज रखना,
बड़ी दूर तक रात ही रात होगी,
मुसाफिर हो तुम भी, मुसाफिर हैं हम भी,
किसी मोड़ पर, फिर मुलाकात होगी..

Charagon ko ankhon mein mahfooz rakhana,
Badi door tak raat hi raat hogi,
Musafir ho tum bhi,Musafir hai ham bhi,
Kisi mod par,phir mulakat hogi..

Follow us on Instagram , FacebookTumblrTwitter

Sad