Chand Shayari, Hindi Chand Shayari, Chand Romantic Shayari, Chand Love Shayari, Moon Love Quotes
Chand Shayari | Chand Shayari

चलो चाँद का किरदार अपना लें हम दोस्तो,
दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें..

Chalo Chand Ka Kirdar Apna Lein Hum Dosto,
Daag Apne Paas Rakhein Aur Roshni Baant Dein..


Chand Shayari | Chand Shayari

आज भीगी हें पलके तुम्हारी याद में,
आकाश भी सिमट गया अपने आप में,
आँसू की बूँद ऐसे गिरी ज़मीन पर,
मानो चाँद भी रोया हो तेरी याद मे..

Aaj bheegi hai Palken Tumhari Yaad mein,
Akash bhi Simat gaya Apne Aap mein,
Ansu ki Bund aise giri zameen par,
Mano Chand bhi Roya ho Teri Yaad mein..


Chand Shayari | Chand Shayari

है चाँद सितारों में चमक तेरे प्यार की,
हर फूल से आती है महक तेरे प्यार की..

Hai Chand Sitaron mein Chamak Tere Pyar ki,
Har phool se aati hai Mahak Tere Pyar ki..


Chand Shayari | Chand Shayari

तू अपनी निगाहों से न देख खुद को,
चमकता हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा,
सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा है तू,
मेरी नजर से चाँद तेरा टुकड़ा लगेगा..!!

Tu Apni Nigahon Se Na Dekh Khud Ko,
Chamakta Heera Bhi Tujhe Patthar Lagega,
Sab Kehte Honge Chand Ka Tukda Hai Tu,
Meri Nazar Se Chand Tera Tukda Lagega..!!


Chand Shayari | Chand Shayari

इजाजत हो तो मैं भी तुम्हारे पास आ जाऊँ,
देखों ना चाँद के पास भी तो एक सितारा है..

Izazat ho to Main bhi Tumhare Pas aa jaun,
Dekho na Chand ke pas bhi to Ek Sitara hai..


Chand Shayari | Chand Shayari

मेरा और उस चाँद का मुक़द्दर एक जैसा है,
वो तारो में तन्हा ,मैं हजारो में तन्हा..

Mera aur Us Chand ka Muqadar ek Jaisa hai,
Wo Taron mein Tanha,Main Hazaon mein Tanha..


Chand Shayari | Chand Shayari

तुम सुबह का चाँद बन जाओ,
मैं सांझ का सूरज हो जाऊँ !
मिलें हम-तुम यूँ भी कभी,
तुम मैं हो जाओ…मैं तुम हो जाऊँ…

Tum subah ka Chand Ban jao,
Main Sanjh ka Suraj ho jaun !
Mile Ham-Tum yun bhi kabhi,
Tum Main Ho jao..Main Tum ho jaun..


Chand Shayari | Chand Shayari

मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं,
चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए…

Muhabbat mein jhukna koi Ajeeb baat nahi,
Chamakata Suraj bhi dhal jata hai Chand ke Liye..


Chand Shayari | Chand Shayari

बेचैन इस क़दर था कि सोया न रात भर,
पलकों से लिख रहा था तेरा नाम चाँद पर..!!

Bechain Is Kadar Tha Ki Soya Naa Raat Bhar,
Palako Se Likh Raha Tha Tera Naam, Chand Par..!!


Chand Shayari | Chand Shayari

कौन कहता है क़ि चाँद तारे तोड़ लाना ज़रूरी है,
दिल को छू जाए प्यार से दो लफ्ज़, वही काफ़ी है…

Kaun Kahata Hain Ki Chand Taare Tod Lana Jaruri Hain,
Dil Ko Chhu Jaaye Pyar Se Do Lafz Wahi Kafi Hain….

Follow us on Instagram and Facebook